डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से दिल्ली में उनके आवास पर मुलाकात की। राष्ट्रीय राजधानी की अपनी यात्रा के दौरान, आदित्यनाथ के शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे। सीएम योगी की दिल्ली यात्रा इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि उत्तर प्रदेश में अगले साल की शुरुआत में चुनाव होने जा रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सीएम योगी पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलकर सरकार और संगठन के फेरबदल पर चर्चा कर सकते हैं। चर्चा यह भी है कि एके शर्मा को यूपी कैबिनेट में एडजस्ट किए जाने पर भी बात हो सकती है। इस दौरे के बाद यूपी में मंत्रिमंडल विस्तार हो सकता है। इस महीने की शुरुआत में, भाजपा के महासचिव बीएल संतोष ने अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए राज्य का दौरा किया था। 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की अमित शाह के साथ बैठक कांग्रेस के एक पूर्व नेता जितिन प्रसाद के पार्टी छोड़ने और बीजेपी में शामिल होने के एक दिन बाद हुई है। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और प्रवक्ता अनिल बलूनी की मौजूदगी में जितिन प्रसाद भाजपा में शामिल हुए थे। 

भाजपा में शामिल होने के बाद जितिन प्रसाद ने कहा था कि कांग्रेस से मेरा संबंध तीन पीढ़ियों का रहा है। लेकिन मैंने पिछले 8-10 सालों में ये महसूस किया है कि आज देश में अगर कोई असली मायने में संस्थागत राजनीतिक दल है तो भाजपा है। बाकी दल तो व्यक्ति विशेष और क्षेत्र के हो गए मगर राष्ट्रीय दल के नाम पर भारत में कोई दल है तो भाजपा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here