• Hindi News
  • International
  • Children Are Not Going To Earn School Anymore, Risk Of Missing Studies, Impact Of Worsening Situation In Epidemic On Education

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

2 घंटे पहलेलेखक: डाना गोल्डस्टीन

  • कॉपी लिंक

बड़ी संख्या में माता-पिता का जॉब छिनने से इन परिवारों के किशोर बच्चों ने पैसा कमाने के लिए काम शुरू कर दिया है।

सैन एंटोनियो, अमेरिका में छात्रा पाउलिन रोजा का हाई स्कूल खुल गया है। लेकिन, अपने कई क्लासमेट्स के समान वह वापस नहीं लौटी है। उसकी स्कूल आने की इच्छा भी नहीं है। पाउलिन ने कोरोना वायरस महामारी के समय एक फास्ट फूड रेस्तरां में सप्ताह में 20 से 40 घंटे तक काम की शुरुआत की है।

पाउलिन जैसे बहुत से छात्र बीते एक वर्ष में जीवन में आए बदलाव के कारण स्कूलों में वापसी मुश्किल हो रही है। बड़ी संख्या में माता-पिता का जॉब छिनने से इन परिवारों के किशोर बच्चों ने पैसा कमाने के लिए काम शुरू कर दिया है। पैरेंट्स ने बच्चों की देखभाल के नए तरीके अपनाए हैं। अब वे अपने रूटीन को नहीं बदलना चाहते हैं।

बड़ी संख्या में छात्रों के हमेशा के लिए पढ़ाई छोड़ने का खतरा पैदा हो गया है। मार्च में आधे अश्वेत और हिस्पेनिक बच्चे एवं 65% एशियाई-अमेरिकी बच्चे ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे थे। इसके मुकाबले केवल 20% श्वेत बच्चे रिमोट स्कूलों से जुड़े थे।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here