डिजिटल डेस्क, दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की स्थापना आज ही के दिन (6 अप्रैल) 1980 को हुई थी और पार्टी के पहले अध्यक्ष अटल बिहारी वाजपेयी बने थे। इसमें कोई शक नहीं कि, पार्टी ने शून्य से शिखर तक का मुकाम हासिल किया है। 2019 के लोकसभा चुनाव में 303 सीटों पर जीत दर्ज करने वाली भाजपा ने…1984 के लोकसभा चुनाव में मात्र 2 सीटों पर जीत हासिल की थी। 90 के दशक में भाजपा को मजबूत करने में वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी की अहम भूमिका रही है तो, मोदी-शाह की जोड़ी ने भी 2014 से लेकर अब तक पार्टी का लगातार विस्तार किया है।

When Vajpayee Failed to Stand Up to Modi in 2002, He Changed the Course of Indian History

कैसे हुआ भारतीय जनता पार्टी का उदय

  • भारतीय जनता पार्टी की स्थापना 6 अप्रैल 1980 को हुई थी।
  • श्यामा प्रसाद मुखर्जी द्वारा 1951 में स्थापित भारतीय जन संघ से बीजेपी का जन्म हुआ। 
  • 1977 में आपातकाल के बाद जनसंघ का कई दलों से विलय हुआ और जनता पार्टी का उदय।
  • जनता पार्टी ने 1977 के चुनाव में कांग्रेस से सत्ता छीन ली।
  • 1980 में जनता पार्टी को भंग करके भारतीय जनता पार्टी की नींव रखी गई।
  • अटल बिहारी वाजपेयी भारतीय जनता पार्टी के पहले अध्यक्ष बने।
  • 1984 के लोकसभा चुनाव में इंदिरा गांधी की हत्या के कारण कांग्रेस के पक्ष में सहानुभूति की लहर थी, जिसकी वजह से भाजपा को सिर्फ 2 सीटों पर जीत मिली।
  • 1989 में बोफोर्स और अन्य मुद्दों को लेकर भारतीय जनता पार्टी आगे बढ़ी और तब उसके पास 85 सीटें थीं।
  • लालकृष्ण आडवाणी ने सोमनाथ से राम रथयात्रा शुरू की और पार्टी का समर्थन बढ़ता गया।
  • उस समय के मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के आदेश पर आडवाणी को बिहार में गिरफ्तार कर लिया गया। 
  • आंदोलन ने जोर पकड़ा और 1991 में पार्टी की सीटें बढ़कर 120 हो गईं।
  • धीरे-धीरे पार्टी ज्यादा सीटों पर जीत हासिल करती गई।
  • और 2019 में पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा ने 303 सीटों पर जीत दर्ज की
  • अब जेपी नड्डा भारतीय जनता पार्टी के मौजूदा अध्यक्ष है।

Modi, Shah meet BJP veterans LK Advani, M M Joshi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here