Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ने यह आरोप लगाया है कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सचिन वझे को 100 करोड़ रुपए हर महीने वसूल कर उन्हें देने को कहा था।

100 करोड़ रुपए की उगाही के आरोप में घिरे और एंटीलिया केस में गिरफ्तार API सचिन वझे को लेकर हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। ताजा जानकारी सामने आई है कि सचिन वझे के लिए मुंबई के एक सोना कारोबारी के कहने पर 25 लाख रुपए में 100 दिन के लिए मुंबई के ट्राइडेंट होटल में कमरा बुक था। इस कमरे का हर दिन का किराया 10 हजार रुपए था।

केंद्रीय जांच एजेंसी (NIA) को होटल से कई सबूत हाथ लगे हैं। इनमें CCTV फुटेज, बुकिंग रिकॉर्ड और स्टाफ का बयान शामिल है। NIA की जांच में सामने आया है कि सचिन वझे के लिए मुंबई के एक ट्रैवल एजेंट ने स्वर्ण कारोबारी के कहने पर 19वें फ्लोर पर कमरा नंबर 1964 बुक करवाया था। आईडी प्रूफ में होटल को उनका फेक आधार कार्ड दिया गया था, जिसमें वझे का नाम सुशांत सदाशिव खामकार दर्ज था। इस मामले में कमरा बुक कराने वाले व्यापारी से आज NIA की टीम ने पूछताछ की है।

13 लाख कैश से हुआ होटल को भुगतान
NIA की पूछताछ में कारोबारी ने बताया कि वझे ने उसके खिलाफ दर्ज दो पेंडिंग केस में फंसाने की धमकी दी थी। यह केस मुंबई के एलटी नगर और कांजुरमार्ग पुलिस स्टेशन में दर्ज थे। वझे ने यह भी कहा था कि अगर वह कमरा बुक करवा देता है तो वह इस केस से उसे बाहर निकाल देगा। यह भी पता चला है कि 25 लाख रुपए में से 13 लाख रुपए कैश ट्रैवल एजेंट ने होटल को दिए थे।

छिपने के लिए बुक करवाया था होटल का कमरा
NIA सूत्रों के मुताबिक, वझे को यह आशंका थी कि आने वाले समय में उसे छिपना पड़ सकता है। इसलिए उसने यह तैयारी पहले से कर ली थी। नरीमन पॉइंट स्थित होटल के एक कमरे में तलाशी टीम को ज्यादा कुछ नहीं मिला, लेकिन स्टाफ के बयान से यह स्पष्ट हुआ है कि वझे से कुछ लोग मिलने के लिए जरूर यहां आए थे। वझे 16 से 20 फरवरी तक रुका था। NIA ने यहां से 35 कैमरों के फुटेज जब्त किए हैं।

वझे ने दिए थे 3 होटल के ऑप्शन
जांच में सामने आया है कि सचिन वझे ने मुंबई के तीन नामचीन होटल ताज, ट्राइडेंट और ओबेरॉय के नाम व्यापारी को दिए थे। बाद में वझे ने होटल ट्राइडेंट को चुना। ये तीनों होटल वझे के ऑफिस के करीब थे।

100 करोड़ रुपए वसूल कर गृह मंत्री को देने का आरोप
मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ने यह आरोप लगाया है कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सचिन वझे को 100 करोड़ रुपए हर महीने वसूल कर देने को कहा था। उनके इस आरोप के बाद महाराष्ट्र राजनीतिक गलियारे में हलचल मची हुई है। इस मामले की CBI से जांच करवाने को लेकर परमवीर सिंह ने सुप्रीम कोर्ट का भी रुख किया था। हालांकि, बुधवार को सुनवाई के दौरान कोर्ट ने उन्हें हाईकोर्ट जाने के लिए कहा है।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here