• Hindi News
  • National
  • Gold Came Down By 10 Thousand Per Ten Grams From Its Highest Level, Due To Lower Price, Demand Increased In Entire Asia Including India

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

11 मिनट पहलेलेखक: रंजीता पकियाम और स्वानसी एफोन्सो

  • कॉपी लिंक

सोने के दाम नौ महीनों के निचले स्तर पर हैं, इससे भारत, मलेशिया, दक्षिण कोरिया और चीन में गोल्ड की डिमांड बढ़ रही है। इसे पूरा करने के लिए रिटेलर्स भी बड़े पैमाने पर सोने की खरीद कर रहे हैं। (सिंबोलिक फोटो)

सोने के दाम नौ महीनों के निचले स्तर पर हैं। दाम घटने से भारत, मलेशिया, दक्षिण कोरिया और चीन में गोल्ड की डिमांड बढ़ रही है। ग्राहकों की बढ़ती डिमांड पूरी करने के लिए रिटेलर्स भी बड़े पैमाने पर सोने की खरीद कर रहे हैं। भारत अपना लगभग सारा सोना इम्पोर्ट करता है। इम्पोर्ट ड्यूटी में कमी की वजह से देश में सोना और भी सस्ता हो गया है। शादियों का सीजन शुरू होने वाला है। ग्राहक घटे दामों पर ज्यादा से ज्यादा खरीदारी करना चाहते हैं।

मुंबई के झावेरी बाजार में सोने की चूड़ियां खरीदने आईं सीमा कहती हैं, सोने के दाम पहले से काफी कम हो गए हैं। मैं काफी समय से अपने लिए सोने की चूड़ियां खरीदने की सोच रही थी, मुझे लगता है सोना खरीदने का यह अच्छा मौका है। अनुमान के मुताबिक फरवरी 2021 में भारत में सोने की खरीद 2019 के बाद के सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गई।

मलेशिया में भी शादी और इन्वेस्टमेंट के लिहाज से सोने की खरीदारी बढ़ गई है। दक्षिण कोरिया में रिटेल इन्वेस्टर भी सस्ता सोना जमा करने में जुट गए हैं। मेटल फोकस नामक फर्म की रिसर्च के मुताबिक 2021 में चीन में गोल्ड ज्वेलरी की खपत 28 फीसदी बढ़ने की उम्मीद है। चीनी रिटेलर्स के मुताबिक ल्यूनर न्यू इयर में सेल लगभग दोगुनी हो गई थी। सिंगापुर, हांगकांग और थाइलैंड में सोने के बिस्कुट पर प्रीमियम पर मिल रहे हैं।

अप्रैल-मई में शून्य था, फरवरी में हुआ 59 टन सोने का आयात

सोने के दाम किफायती हो गए हैं
कोविड-19 की वजह से सोना 5,6000 रुपए प्रति दस ग्राम के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था। अभी के दाम किफायती लग रहे हैं। पेंट अप डिमांड बढ़ रही है। अगर सोने के भाव 44 से 47 हजार रुपए प्रति दस ग्राम की रेंज में रहेंगे तो खरीदारी भी बनी रहेगी। इससे कम या ज्यादा होने पर दिक्कत हो सकती है।
– सुरेंद्र मेहता, नेशनल सेकेट्री, आईबीजेए

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here