Photo:FILE

झारखंड सरकार ने फिक्की, फ्लिपकार्ट इंटरनेट से किया करार, बुनियादी ढांचे और औद्योगिक विकास में होगा काम


रांची: झारखंड सरकार ने शनिवार को फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) और फ्लिपकार्ट इंटरनेट प्राइवेट लिमिटेड के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए। नई दिल्ली में स्टेकहोल्डर कांफ्रेंस दौरान एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। उद्योग विभाग के साथ समन्वय में, फ्लिपकार्ट और इसकी समूह कंपनियां सामाजिक विकास सहित बुनियादी ढांचे और औद्योगिक विकास की दिशा में काम करेंगी। समझौता ज्ञापन इकाई के लिए सहयोग और निवेश के लिए अनुकूल माहौल बनाने में मदद करेगा।

फिक्की राज्य सरकार को सहयोग को बढ़ावा देने, व्यापार करने में आसानी और निजी क्षेत्र की भागीदारी बढ़ाने की दिशा में काम करने के लिए अपनी क्षेत्रीय विशेषज्ञता, उद्योग संपर्क, वैश्विक नेटवर्किं ग और औद्योगिक और विभिन्न क्षेत्रीय नीतियों की समीक्षा करेगा।

यह राज्य सरकार को वस्त्र, खाद्य प्रसंस्करण, फार्मास्यूटिकल्स, स्वास्थ्य सेवा, सूक्ष्म, मध्यम और लघु उद्योग, और पर्यटन जैसे प्रमुख प्राथमिकता वाले क्षेत्रों से संबंधित आवश्यक तकनीकी सलाह और निवेश में मदद करेगा। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपने भाषण में सरकार और उद्योग के बीच दृष्टिकोण के आदान-प्रदान के लिए मूल्यवान अवसर प्रदान करने में इस तरह के आयोजनों के महत्व पर प्रकाश डाला।

सोरेन ने कहा कि कोविड-19 ने औद्योगिक उत्पादन में संकट पैदा किया है और वैल्यू चेन पर प्रतिकूल प्रभाव डाला है। मुख्यमंत्री ने माना कि औद्योगिक क्षेत्र को एक विस्तारित और अनियोजित लॉकडाउन के कारण होने वाली परेशानियों को दूर करने के लिए कुछ मदद की आवश्यकता है। इस दौरान झारखंड सरकार ने फिक्की के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। हेमंत सोरेन के अलावा इस बैठक में झारखंड के मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, उद्योग सचिव पूजा सिंघल और उद्योग निदेश जितेंद्र कुमार सिंह और अन्य ने भी हिस्सा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here