प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दीक्षांत समारोह में छात्रों को वर्चुअल तरीके से डिग्री-डिप्लोमा भी देंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए तमिलनाडु के डॉ. एम.जी.आर. चिकित्सा विश्वविद्यालय के 33वें दीक्षांत समारोह में शामिल होंगे। 15 दिन के अंदर ये तीसरी बार है जब प्रधानमंत्री सीधे तमिलनाडु के लोगों से जुड़ रहे हैं। इसके पहले गुरुवार को ही वह तमिलनाडु के दौरे पर थे। यहां उन्होंने 12,400 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट को हरी झंडी दिखाई थी। तमिलनाडु में इसी साल चुनाव होने हैं। ऐसे में प्रधानमंत्री का यह कार्यक्रम भी उसी से जोड़कर देखा जा रहा है।

17 हजार से ज्यादा छात्रों को डिग्री-डिप्लोमा
प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी सूचना के मुताबिक, दीक्षांत समारोह में कुल 17 हजार 591 कैंडिडेट्स को डिग्री और डिप्लोमा दी जाएगी। इस दौरान तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित भी मौजूद रहेंगे। इस विश्वविद्यालय का नाम तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ एम.जी. रामचंद्रन पर रखा गया। इससे कुल 686 कॉलेज जुड़े हुए हैं। इन कॉलेजों में मेडिकल, डेंटल, फार्मेसी, नर्सिंग, आयुष, फिजियोथेरेपी के कई कोर्स संचालित होते हैं।

पावर प्रोजेक्ट और बांध के प्रोजेक्ट की शुरुआत
PM मोदी ने गुरुवार को तमिलनाडु दौरे के दौरान कोयंबटूर में भवानी सागर बांध के आधुनिकीकरण की आधारशिला रखी। इससे 2 लाख एकड़ से ज्यादा जमीन की सिंचाई होगी। इस योजना से इरोड, करूर, तिरुप्पूर जिले के किसानों को फायदा होगा। मोदी ने कहा कि भारत की इंडस्ट्री ग्रोथ में तमिलनाडु अहम भूमिका निभा रहा है। इंडस्ट्री ग्रोथ के लिए लगातार पावर सप्लाई मिलना जरूरी है। आज देश को 2 बड़े पावर प्रोजेक्ट मिल रहे हैं। एक और पावर प्रोजेक्ट की आधारशिला रखी जा रही है। इस तरह से कुल 12 हजार 400 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट शुरू किए।

 

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here