श्रीनगर में मंगलवार को भारी बर्फबारी हुई, जिसके बाद सड़कों पर खड़ी गाड़ियों पर बर्फ की मोटी चादर बिछ गई।

देश में मौसम का मिला-जुला असर नजर आ रहा है। कई राज्यों में तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है तो कहीं भारी बारिश और बर्फबारी के आसार हैं। पंजाब, राजस्थान, मध्य प्रदेश समेत 5 राज्यों में तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। वहीं, हिमाचल में भारी बर्फबारी के चलतेे 3 हाईवे समेत 377 सड़कें बंद हो गईं। श्रीनगर में भी भारी बर्फ गिरी। यहां एयरपोर्ट के रन-वे पर बर्फ जमा हो गई थी। जिसे बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन (BRO) ने लगातार ऑपरेशन चलाकर हटाया।

श्रीनगर एयरपोर्ट पर बुधवार को रनवे से बर्फ हटाती BRO की टीम।

हिमाचल और PoK में अगले 24 घंटे भारी बर्फबारी के आसार
हिमाचल प्रदेश और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद) अगले 24 घंटे के दौरान भी भारी बारिश या बर्फबारी होने के आसार हैं। पंजाब, दक्षिणी तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में भी अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश के आसार हैं। मंगलवार को कश्मीर में भारी बर्फबारी हुई तो राजस्थान में ओले गिरे।

6 राज्यों में मौसम का हाल

MP: भोपाल में दिन का पारा 6 डिग्री बढ़कर 25 के पार पहुंचा मध्यप्रदेश में हवा का रुख बदलते ही मौसम का मिजाज भी बदल गया। राजधानी भोपाल में मंगलवार दोपहर बाद घने बादल छंटे तो धूप निकली। इससे दिन के तापमान में 6 डिग्री का इजाफा हुआ। दिन का तापमान 25.3 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 1 डिग्री ज्यादा रहा। रात का तापमान 16.7 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 7 डिग्री ज्यादा रहा। यह पिछले 5 साल में जनवरी में रात का सबसे ज्यादा तापमान है।

फोटो मध्यप्रदेश के रायसेन की है। एक तरफ बारिश ने भिगाया, तो सुबह कोहरा भी छाया।

फोटो मध्यप्रदेश के रायसेन की है। एक तरफ बारिश ने भिगाया, तो सुबह कोहरा भी छाया।

राजस्थान: कई जिलों में सुबह घना कोहरा, सबसे कम पारा श्रीगंगानगर में
कड़ाके की सर्दी के बाद अब राजस्थान में बारिश-ओलों का दौर जारी है। लगातार पांचवें दिन जयपुर, चूरू, श्रीगंगानगर, अलवर समेत प्रदेश के कई इलाकों में बारिश और ओले गिरे। सुबह घना कोहरा रहा। सीकर जिले के श्रीमाधोपुर में 2 इंच, जयपुर के सांभर में पौने दो इंच बारिश हुई। हालांकि, बारिश के बाद भी पारे में 10 डिग्री तक उछाल आया। सबसे ज्यादा तापमान पिलानी में रहा। यहां रात का पारा 4 डिग्री से 14.1 डिग्री पहुंच गया। इसके अलावा सभी शहरों में रात का पारा 10 डिग्री से ज्यादा रिकॉर्ड हुआ।

राजस्थान के झुंझुनूं में बारिश से सड़कों पर पानी भर गया।

राजस्थान के झुंझुनूं में बारिश से सड़कों पर पानी भर गया।

छत्तीसगढ़: वेस्टर्न डिस्टरबेंस का असर, ठंड नहीं
सर्दी कम होने के बावजूद कोहरा अब भी बरकरार है। छत्तीसगढ़ के सबसे ठंडे जिले अंबिकापुर में दिन और रात का तापमान सामान्य से 5 डिग्री तक ऊपर चला गया है। उत्तर के बजाय दक्षिण-पूर्व से आ रही हवा में नमी ज्यादा है, इसलिए ठंड कम हुई है। ठंड के नाम पर इसी नमी की वजह से आउटर में सुबह और रात में हल्का कोहरा ही रह रहा है। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार, जब तक पश्चिम विक्षोभ का असर खत्म नहीं होता, ठंड नहीं बढ़ेगी।

हिमाचल: बर्फबारी के बाद पहाड़ी क्षेत्रों की मुश्किलें बढ़ीं
कड़ाके की ठंड और ऊंचाई वाले इलाकों में हो रही बर्फबारी ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। शिमला में इसका खासा असर देखने को मिल रहा है। बीते 24 घंटे में शिमला का तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस तक लुढ़का। मौसम विभाग के मुताबिक, आज भी मौसम खराब रहेगा और बर्फबारी का सिलसिला जारी रहेगा। पर्यटन स्थल कुफरी और नारकंडा में ट्रांसपोर्ट बंद हो गया है। 3 नेशनल हाईवे समेत 377 सड़कों पर आवाजाही बंद हो गई है। 110 बिजली ट्रांसफार्मर काे नुकसान पहुंचा है। पर्यटकों के सोलंगनाला से आगे जाने पर रोक लगा दी है।

हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी के बाद ठंड काफी बढ़ गई। मौसम का लुत्फ उठाते पर्यटक।

हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी के बाद ठंड काफी बढ़ गई। मौसम का लुत्फ उठाते पर्यटक।

पंजाब: रात का पारा 14 डिग्री पर पहुंचा
राज्य के कई जिलों में बूंदाबांदी हुई। इससे दिन का पारा 18 डिग्री, जबकि रात का तापमान 14 डिग्री तक पहुंच गया। जालंधर में देर रात गरज के साथ बारिश हुई। हवा का लो प्रेशर अगले 2 दिन सक्रिय रहेगा। 11 जिलों पठानकोट, गुरदासपुर, अमृतसर, होशियारपुर, तरनतारन, नवांशहर, कपूरथला, फतेहगढ़ साहिब, पटियाला, मोहाली और रूपनगर में बुधवार को बूंदाबांदी के आसार हैं।

लुधियाना में बारिश के बाद अधिकतम तापमान 23° और न्यूनतम 12° रिकॉर्ड किया गया।

लुधियाना में बारिश के बाद अधिकतम तापमान 23° और न्यूनतम 12° रिकॉर्ड किया गया।

बिहार: दो दिन बाद तापमान में आएगी गिरावट
पटना में जनवरी महीने में कड़ाके ठंड की जगह गर्मी का अहसास हो रहा है। मौसम में यह बदलाव नम हवाओं और आसमान में छाए बादलों के कारण है। इससे राज्य में अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य से 4 से 5° सेल्सियस से ज्यादा रिकाॅर्ड किया गया। मौसम की यह स्थिति 48 घंटों तक बनी रहेगी। इसके बाद हवा शुष्क हो जाएगी। पहाड़ों की बर्फबारी का असर राज्य के सभी हिस्सों में दिखेगा।मंगलवार को पटना में अधिकतम तापमान 25.9 डिग्री और न्यूनतम 13 डिग्री सेल्सियस रिकाॅर्ड किया गया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here