Photo:FILE PHOTO TCS becomes the most valued domestic firm
 

नई दिल्‍ली। देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्‍टेंसी सर्विसेस (TCS) सोमवार को रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) को पीछ़े छोड़कर एक बार फ‍िर बाजार मूल्‍याकंन के हिसाब से  देश की सबसे मूल्‍यवान कंपनी बन गई है। दोपहर के कारोबार के दौरान, बीएसई पर टीसीएस का कुल बाजार पूंजीकरण 12,45,341.44 करोड़ रुपये था, ज‍बकि रिलायंस इंडस्‍ट्रीज का मार्केट कैप 12,42,593.78 करोड़ रुपये था।

आरआईएल का शेयर सोमवार को 4.84 प्रतिशत की गिरावट के साथ बीएसई पर 1950.30 रुपये पर कारोबार करते हुए देखा गया। आरआईएल के वित्‍तीय नतीजे निवेशकों की आशा के अनुरूप न रहने की वजह से कंपनी के शेयरों में बिकवाली हावी रही। वहीं दूसरी ओर टीसीएस के शेयर में 1.26 प्रतिशत की तजी आने से इसने अपने एक साल के उच्‍चतम स्‍तर 3,345.25 रुपये के स्‍तर को छूने में कामयाबी हासिल की।

टीसीएस ने पिछले साल मार्च में भी देश की सबसे मूल्‍यवान घरेलू कंपनी होने का दर्जा प्राप्‍त किया था। कंपनियों की मार्केट कैप रोजाना उनके स्‍टॉम मूल्‍य के आधार पर बदलता रहता है।

यूको बैंक को दिसंबर तिमाही में 35 करोड़ का शुद्ध मुनाफा

सार्वजनिक क्षेत्र के यूको बैंक ने सोमवार को बताया कि दिसंबर 2020 में खत्म हुई चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के दौरान उसे 35.44 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ है। बैंक ने बताया कि इस दौरान उसके फंसे हुए कर्ज में गिरावट के चलते प्रावधान संबंधी जरूरतों में कमी आई। बैंक को इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 960.17 करोड़ रुपये का शुद्ध नुकसान हुआ था। इसी तरह चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसे 30.12 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था।

यूको बैंक ने शेयर बाजार को बताया कि समीक्षाधीन अवधि में उसकी कुल आय घटकर 4,466.97 करोड़ रुपये रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 4,514.21 करोड़ रुपये थी।

जायडस कैडिला ने कहा, कोविड-19 की दवा के दूसरे चरण के परीक्षण से सकारात्मक परिणाम

दवा कंपनी जायडस कैडिला ने सोमवार को कहा कि मैक्सिको में कोविड-19 के मरीजों पर उसकी दवा डेसीडुस्टैट के दूसरे चरण के परीक्षण के नतीजे सकारात्मक हैं। जायडस कैडिला को जून 2020 में मैक्सिको के नियामक प्राधिकरण से कोविड-19 के इलाज की संभावित दवा डेसीडुस्टैट के परीक्षण की अनुमति मिली थी। कैडिला हेल्थकेयर ने शेयर बाजार को बताया कि कोविड के इलाज में डेसीडुस्टैट के दूसरे चरण के परीक्षण सकारात्मक रहे हैं। कंपनी ने बताया कि इस दवा के इस्तेमाल से लाल रुधिर कणिकाओं के निर्माण में बढ़ोतरी हुई और ऑक्सीजन स्तर में भी सुधार हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here