सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एसए बोबडे ने बुधवार को वोटिंग को मौलिक अधिकार मानने से इंकार कर दिया। उन्होंने इसे मौलिक अधिकार बताने वाले वकील काे जमकर फटकार लगाई। वकील सीआर जया सुकीन की याचिका पर सुनवाई के दाैरान यह वाकया पेश आया।

याचिकाकर्ता ने ईवीएम के बजाय मतपत्र से मतदान कराने के लिए सरकार और चुनाव आयाेग काे निर्देश देने की मांग की थी। कहा कि ईवीएम में गड़बड़ी का खतरा हाेता है। वाेटिंग लोगों के मौलिक अधिकार से जुड़ा मामला है। इस पर सीजेआई ने पूछा कि आप किस मौलिक अधिकार की बात कर रहे हैं? वोट देने का अधिकार हमारा मौलिक अधिकार नहीं है। ऐसा संविधान में कहीं नहीं लिखा है। सीजेआई की अध्यक्षता वाली पीठ ने इस टिप्पणी के साथ याचिका खारिज कर दी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here