केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने गुरुवार को JEE एडवांस्ड की तारीख का ऐलान कर दिया। शेड्यूल के मुताबिक इस साल JEE एडवांस्ड तीन जुलाई को होगा। परीक्षा की तारीख के साथ ही केंद्रीय मंत्री ने IITs में एडमिशन के लिए जरूरी एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि पिछली बार की तरह इस बार भी 12वीं में 75% मार्क्स की बाध्यता हटा दी गई है।

IIT खड़गपुर को जिम्मेदारी

सोशल मीडिया अकाउंट पर किए लाइव वेबिनार में केंद्रीय मंत्री ने बताया कि इस साल JEE एडवांस्ड कराने की जिम्मेदारी IIT खड़गपुर के पास है। पिछले साल यह परीक्षा IIT दिल्ली ने कराई थी। इसमें करीब 2.45 लाख कैंडिडेट्स ने क्वालिफाई किया था।

CBSE समेत दूसरे बोर्ड ने सिलेबस में 30% कटौती की

कोरोना के कारण पढ़ाई को हुए नुकसान को देखते हुए CBSE समेत दूसरे केंद्रीय और राज्य बोर्ड ने परीक्षा के सिलेबस में 30 फीसदी तक की कटौती की है। साथ ही स्कूल और कोचिंग इंस्टीट्यूट बंद होने की वजह से भी कैंडिडेट्स को तैयारी में परेशानी हो रही है।

ऐसे में कैंडिडेट्स ने सोशल मीडिया के जरिए शिक्षा मंत्री से एडमिशन के लिए तय एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया में छूट देने की गुजारिश की थी। साथ ही उन्होंने JEE मेन के लिए 12वीं में 75 फीसदी अंक के क्राइटेरिया में छूट की गुजारिश की थी।

4 बार होगा JEE मेन

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने इससे पहले JEE मेन और CBSE की 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा की तारीखों का ऐलान किया था। इस बार JEE मेन फरवरी से मई तक 4 सेशन में कराया जाएगा। फरवरी में होने वाली परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन चल रहा है। यह 16 जनवरी तक चलेगा। इस साल CBSE 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षा 4 मई से 10 जून के बीच कराएगा। प्रैक्टिकल एग्जाम एक मार्च से शुरू होंगे। परीक्षा का रिजल्ट 15 जुलाई तक जारी होगा।

यह भी पढ़ें-

CBSE बोर्ड एग्जाम 2021:4 मई से 10 जून के बीच होंगी 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं, 01 मार्च से शुरू होगा प्रैक्टिकल एग्जाम, 15 जुलाई तक जारी होगा रिजल्ट

JEE मेंस 2021:पहली बार इंग्लिश के साथ हिंदी समेत 13 भाषाओं में होगी परीक्षा, निगेटिव मार्किंग भी हटाई गई

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here