इंडोनेशिया में क्रैश हुए प्लेन का मलबा ढूंढने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। जावा सागर से रेस्क्यू टीम ने रविवार को बॉडी पार्ट्स, कपड़े और मलबा बरामद किया। प्लेन बोइंग 737-500 शनिवार को जकार्ता के नजदीक समुद्र में क्रैश हो गया था। प्लेन में 62 लोग सवार थे।

क्रैश की वजह का अब तक पता नहीं
श्रीविजया एयर का फ्लाइट का नंबर SJ 182 था। बोइंग 737-500 क्लास के इस प्लेन ने जकार्ता के सुकर्णो-हट्टा हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी। उड़ान भरने के चार मिनट बाद ही इसका एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) से संपर्क टूट गया था। उस वक्त विमान 10 हजार फीट की ऊंचाई पर था।

वॉर शिप और हेलीकॉप्टर रेस्क्यू में लगे
पुलिस के मुताबिक, रविवार सुबह हमें दो बैग मिले। एक बैग में यात्रियों के सामान और दूसरे में बॉडी पार्ट्स थे। रेस्क्यू के लिए वॉर शिप, हेलीकॉप्टर और डाइवर्स ने मोर्चा संभाल रखा है। किसी के भी बचने की उम्मीदें न के बराबर हैं।

एयरपोर्ट पर अफरा-तफरी
सूचना मिलते ही जकार्ता और पॉन्टिआनाक एयरपोर्ट पर पैसेंजर्स के परिजन पहुंचने लगे थे। दोनों एयरपोर्ट पर अफरा-तफरी मची रही। परिजन रोते-बिलखते दिखे। एक परिजन ने बताया कि फ्लाइट में उनकी पत्नी और 3 बच्चे सवार थे। उनकी पत्नी ने बच्चे की फोटो भी भेजी थी। खबर मिलने के बाद मेरा दिल टुकड़े-टुकड़े हो गया।

10 वॉरशिप मौके पर मौजूद
इंडोनेशिया की मिलिट्री के हेड हादी जीहजान्टो ने बताया कि अब तक की जांच से पता चला है कि प्लेन के लास्ट सिग्नल से को-आर्डिनेट मैच हो रहे हैं। हमारे सैकड़ों जवान रेस्क्यू में लगे हुए हैं। नेवी ने 10 वॉर शिप मौके पर भेज दी हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Indonesian Plane Crash News Update | Boeing 737-500, Java Sea, Sriwijaya Air Boeing 737-500, pieces of clothing and scraps of metal rescued from the Java Sea

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here