Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लागोस.2 महीने पहले

  • कॉपी लिंक

फोटो नाइजीरिया के एक लोकल क्रिमिनल ग्रुप की है। ऐसे ग्रुप अक्सर वहां रहने वाले दूसरे देशों के लोगों को फिरौती के लिए अगवा करते हैं।- फाइल फोटो

नाइजीरिया में दो भारतीयों को कुछ लोगों ने अगवा कर लिया है। पुलिस ने बताया कि दोनों अगवा भारतीय इबादान फार्मा कंपनी में काम करते थे। रविवार को कंपनी से लौटते समय उन्हें कुछ लोगों ने अगवा कर लिया।इन्हें अगवा करने से पहले इनकी गाड़ी का पिछला पहिया निकाल दिया गया था, जिससे ये भाग न सकें। अभी अगवा भारतीयों के नाम की जानकारी नहीं दी गई है। ये भी नहीं बताया गया है कि ये दोनों भारत में कहां के रहने वाले थे।

साउथवेस्ट नाइजीरिया के पुलिस प्रवक्ता ओलुगबेंगा फादेयी ने कहा- पुलिस अगवा भारतीयों की तलाश करने और उन्हें बचाने की कोशिश कर रहे हैं। हालांकि, अभी यह नहीं बताया जा सकता कि अगवा करने वालों ने फिरौती के लिए उनके परिवार को फोन किया है या नहीं। दूसरे विदेशी नागरिक सावधान रहें। किसी तरह की संदिग्ध गतिविधि नजर आने पर पुलिस को जानकारी दें।

नाइजीरिया में अक्सर अगवा होते हैं भारतीय

नाइजीरिया में सैकंडों भारतीय रहते हैं। ये वहां की फार्मा कंपनियों में काम करते हैं। भारतीय समेत दूसरे देशों के लोगों को अक्सर वहां के लोकल ग्रुप अगवा कर लेते हैं। ऐसा वे उनके परिवार से फिरौती वसूलने के लिए करते हैं। फिरौती की रकम मिल जाने के बाद ऐसे लोगों को छोड़ भी देते हैं। हालांकि, नाइजीरिया पुलिस फिरौती देने की बात मुश्किल से बताती है।

पिछले साल जहाज से अगवा किए गए थे भारतीय

नाइजीरिया के समुद्री तट से दिसंबर 2019 में एक जहाज से 20 भारतीयों को अगवा कर लिया था। एक महीने बाद भारतीय उच्चायोग की मदद से इनमें से 18 लोगों को छुड़ाया गया था। डाकुओं ने अगवा लोगों को सही ढंग से नहीं रखा था। उनकी कैद में रहने के दौरान दो व्यक्ति की मौत हो गई थी। ये सभी भारतीय एमटी ड्यूक नामक पोत पर सवार थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here