• Hindi News
  • Coronavirus
  • Coronavirus Covid 19 Vaccine Updates| US Advisory Panel Urged FDA To Give Emergency Approval For Pfizer And BioNTech.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वॉशिंगटन2 महीने पहले

गुरुवार को न्यूयॉर्क के माउंट सिनाई क्वीन हॉस्पिटल में कोविड-19 वैक्सीन स्टोरेज चेक करते यहां के चीफ फार्मासिस्ट बिली सिन। उनके मुताबिक, फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन को -70 डिग्री सेल्सियस पर स्टोर करके रखना एक बड़ी चुनौती है।

दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7.06 करोड़ के पार हो गया। 4 करोड़ 91 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 15 लाख 87 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। अमेरिका में संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। एक दिन में तीन हजार मौतों के बाद सरकार पर दबाव बढ़ रहा है। यहां फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) जल्द ही फाइजर वैक्सीन के इमरजेंसी में इस्तेमाल को अप्रूवल दे सकता है। इसकी ही एक संस्था ने वैक्सीन को जल्द मंजूरी देने की अपील की है।

अमेरिका से दो अहम अपडेट
पहला : अमेरिका में बुधवार को एक ही दिन में 3260 लोगों की मौत के बाद सरकार पर दबाव बढ़ गया है। यह एक दिन में हुई मौतों का सबसे बड़ा आंकड़ा है। केंद्र और राज्य सरकारों ने कुछ हफ्ते पहले ही लोगों को चेतावनी दी थी कि वे थैंक्स गिविंग डे की छुट्टियों के दौरान यात्रा और लापरवाही से बचें। मौतों और संक्रमण के आंकड़े बता रहे हैं कि सरकार की वॉर्निंग को गंभीरता से नहीं लिया गया।

दूसरा : FDA के एक एडवाइजरी पैनल ने इस संस्था से अपील में कहा है कि वो फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन को कम से कम इमरजेंसी में इस्तेमाल के लिए अप्रूवल दे। FDA की अप्रूवल में देरी के लिए काफी आलोचना हो रही है। राष्ट्रपति ट्रम्प भी कई हफ्ते पहले FDA को फटकार लगा रहे हैं। जबकि, इस संस्था की दलील है कि वैक्सीन अप्रूवल में कोई जल्दबाजी की गई तो इसके नतीजे गंभीर हो सकते हैं। अमेरिका में वैक्सीन अप्रूवल की प्रक्रिया काफी जटिल है।

तीसरा देश बन सकता है अमेरिका
अगर वैक्सीन को अप्रूवल मिल जाता है कि ब्रिटेन और कनाडा के बाद अमेरिका इस वैक्सीन को मंजूरी देने वाला तीसरा देश होगा। गुरुवार को न्यू इंग्लैंड मेडिकल जर्नल ने फाइजर वैक्सीन को अपनी रिपोर्ट में 95% इफेक्टिव बताया। रिपोर्ट में कहा गया कि इसका ट्रायल 43 हजार लोगों पर किया जा चुका है। जर्नल ने इसे महामारी पर साइंस की जीत करार दिया।

कनाडा में जल्द शुरू होगा वैक्सीनेशन
कनाडा ने बुधवार को फाइजर-बायोएनटेक की वैक्सीन को अप्रूवल दिया था। अब यहां की हेल्थ मिनिस्ट्री ने साफ कर दिया है कि देश में बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन बहुत जल्द शुरू होगा। गुरुवार को हेल्थ मिनिस्ट्री की जनरल एडमिनिस्ट्रेश से लंबी बैठक हुई। इसमें वैक्सीनेशन प्रॉसेस पर विचार किया गया। ‘द गार्डियन’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अगले हफ्ते वैक्सीनेशन शुरू हो सकता है और सबसे पहले यह हाई रिस्क वाले लोगों को दी जाएगी। कनाडा को रविवार को 30 हजार डोज मिलेंगे। इस महीने के आखिर तक यह संख्या 2 लाख 49 हजार हो जाएगी।

अफ्रीकी देशों की अपील
अफ्रीकी देशों ने अमीर देशों से अपील में कहा है कि अगर उनके पास ज्यादा वैक्सीन मौजूद होती है तो वे इसे गरीब देशों को जरूर दें। अफ्रीकी देशों की एक संस्था ने कहा- यह महामारी मानवता के लिए चुनौती है। अगर अमीर और विकसित देशों के पास वैक्सीन के जरूरत से ज्यादा डोज मौजूद हैं तो इसे गरीब देशों को दिया जाना चाहिए। कुछ दिन पहले बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने इस बारे में आगाह भी किया था कि विकसित देशों के पास वैक्सीन के डोज ज्यादा हो सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here